-->

क्रेडिट कार्ड क्या है?

 


बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो दैनिक जीवन में क्रेडिट कार्ड का प्रयोग सामान को खरीदने में करते हैं। बहुत से लोगों के मन में सवाल आता है कि क्रेडिट कार्ड है क्या।

आज के इस लेख में हम आपको क्रेडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी हिंदी भाषा में देने वाले हैं।

क्रेडिट कार्ड क्या है, क्रेडिट कार्ड के लाभ क्या है क्रेडिट कार्ड के क्या क्या नुकसान है और क्रेडिट कार्ड कैसे बनाया जाता है।

credit card kya hai

क्रेडिट कार्ड क्या है?

साधारण शब्दों में प्लास्टिक से बने आयताकार कार्ड जिसमें कुछ अंकों के कोड शामिल होते हैं उसे क्रेडिट कार्ड कहते हैं। क्रेडिट कार्ड का प्रयोग दुकान से सामान खरीदने में करता है क्रेडिट कार्ड एक प्रकार का उधार कार्ड होता है जिसमें व्यक्ति की उधारी की एक सीमा होती है। क्रेडिट कार्ड से व्यक्ति पैसे निकाल सकता है और ऑफलाइन सामान खरीद सकता है।


क्रेडिट कार्ड को बैंकों के द्वारा और प्राइवेट संस्थान के द्वारा बनाया जाता है और इसमें व्यक्ति का क्रेडिट स्कोर और बैलेंस हिस्ट्री के बाद ही व्यक्ति की क्रेडिट लिमिट तय की जाती है। अंत में आपको क्रेडिट कार्ड से किया गया भुगतान का बिल प्राप्त होता है और इसके पैसे आपको शुरुआत में बिना प्याज के देने पड़ते हैं लेकिन आप कुछ टाइम बाद क्रेडिट कार्ड के बिल की कैसे भरते हैं तो आपको ब्याज सहित पैसा देना होता है।

क्रेडिट कार्ड में आपका पैसा बैंक अकाउंट से नहीं कटता है। क्रेडिट कार्ड के माध्यम से बैंक में एक प्रकार से लोन उपलब्ध कराता है जिसका भुगतान हमें 45 से 50 दिनों के अंतर्गत करना होता है।


क्रेडिट कार्ड के लाभ

क्रेडिट कार्ड के बहुत से लोग देखने के लिए मिलते हैं भारत में अधिकतर लोग क्रेडिट कार्ड का प्रयोग करते हैं इसके बहुत सारे फायदे हैं जैसे


आसानी से वस्तुओं का भुगतान करने में सहायक

क्रेडिट कार्ड का सबसे बड़ा लाभ जो देखा जाता है कि आप बड़े बड़े मॉल और ऑनलाइन ई-कॉमर्स वेबसाइट में सामान खरीदने के बाद अपने क्रेडिट कार्ड से भुगतान कर सकते हैं और का बिल आप 45 दिन के अंतर्गत भर सकते हैं। इसके अलावा आप क्रेडिट कार्ड से ऑफलाइन हो स्टोर का भी भुगतान कर सकते हैं।


क्रेडिट कार्ड से अधिक वस्तुओं का भुगतान करने में छूट

अगर आप बड़े बड़े मॉल में या ई-कॉमर्स वेबसाइट में क्रेडिट कार्ड से भुगतान करते हैं तो आपको 10 परसेंट से लेकर 15 परसेंट तक की छूट प्राप्त हो जाती है। इसलिए बड़े-बड़े लोग अधिकतर क्रेडिट कार्ड का प्रयोग करते हैं।


क्रेडिट कार्ड के माध्यम से आसानी से लोन प्राप्त करें

अगर आप का क्रेडिट कार्ड  स्कोर अच्छा होता है तो बैंक आपको बहुत आसानी से लोन दे देता है। आप कभी भी किसी भी समय अपने क्रेडिट कार्ड से आसानी से लोन प्राप्त कर सकते हैं।


ऑनलाइन टिकट बुकिंग में सहायक

क्रेडिट कार्ड के माध्यम से ऑनलाइन बुकिंग आसानी से कर सकते हैं और टिकट की ऑनलाइन बुकिंग का भुगतान अगर क्रेडिट कार्ड से करते हैं तो कई बार हमें क्रेडिट कार्ड से 10 परसेंट की छूट भी प्राप्त हो जाती है जिससे हमारे पैसे बच जाते हैं।


पूरी महीने के खर्च के का विवरण

क्रेडिट कार्ड के माध्यम से हम अपने पूरे खर्चे का पता लगा सकते हैं कि हमने कब कहां पर पैसे खर्च किए हैं।

क्रेडिट कार्ड में हमारे सभी खर्चों का लेखा-जोखा रहता है।


पैसों की बचत

क्रेडिट कार्ड का प्रयोग करके हम अपने कुछ पैसों की बचत कर सकते हैं क्योंकि क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने में कई जगह छूट प्राप्त होती है।


क्रेडिट कार्ड के नुकसान

जितने अधिक क्रेडिट कार्ड के लाभ है उतने ही ज्यादा क्रेडिट कार्ड की नुकसान भी देखने के लिए मिल सकते हैं जैसे


समय पर बिल का भुगतान न करने पर पेनल्टी

कई बार क्रेडिट कार्ड का भुगतान करना व्यक्ति भूल जाता है जिसके बाद उसे बैंकों को ब्याज देना होता है जिसके कारण उसे बहुत नुकसान हो सकता है। क्रेडिट कार्ड के बिल का समय पर भुगतान करना आवश्यक होता है।


लोन में फंसने की डर

क्रेडिट कार्ड के माध्यम से व्यक्ति लगातार लोन बैंक से ले लेते हैं जिसके बाद उनका भुगतान करने में टाइम लग जाता है और वे लगातार लोन में फंस जाते हैं।


क्रेडिट कार्ड की बुरी लत

कई बार व्यक्तियों को क्रेडिट कार्ड की लत लग जाती है और वह इसका प्रयोग आवश्यकता से ज्यादा करने लगते हैं जिसका भविष्य में उन्हें नुकसान झेलना पड़ता है।


क्रेडिट कार्ड के प्रकार

क्रेडिट कार्ड कई प्रकार के होते हैं:

  • शॉपिंग क्रेडिट कार्ड

  • बैलेंस ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड

  • फ्यूल क्रेडिट कार्ड

  • ट्रैवल क्रेडिट कार्ड

  • रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड

  • सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड

  • किसान क्रेडिट कार्ड


क्रेडिट कार्ड के नियम और शर्तें

क्रेडिट कार्ड के नियम और शर्ट सभी बैंक के अलग-अलग है हर एक बैंक अपना क्रेडिट कार्ड के लिए अलग-अलग नियम और शर्त रखता है।

क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान जारी महीने की तिथि में किया जाता है।

क्रेडिट कार्ड के बिल के भुगतान के साथ-साथ ₹200 टैक्स के रूप में भी देने होते हैं।

एटीएम से क्रेडिट कार्ड के माध्यम से 15000 से कम रुपए निकाल सकते है।

क्रेडिट कार्ड कैसे बनाएं

अगर आप अपना क्रेडिट कार्ड बनाना चाहते हैं तो आप किसी भी बैंक की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर क्रेडिट कार्ड बना सकते हैं क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए आपके पास कुछ डाक्यूमेंट्स का होना बहुत जरूरी है जैसे

  • पैन कार्ड

  • आधार कार्ड

  • बैंक अकाउंट नंबर

  • फोटो

  • मोबाइल नंबर

  • ईमेल आईडी

भारत के सभी प्राइवेट बैंक से लेकर सरकारी बैंक क्रेडिट कार्ड सेवा अपने ग्राहक को देते हैं आप ऑफलाइन और ऑनलाइन माध्यम से क्रेडिट कार्ड बना सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए सैलरी

अगर कोई भी क्रेडिट कार्ड बनाता है तो बैंक द्वारा कुछ नियम और शर्त होती हैं और उन नियम और शर्त का जो पालन करता है वह व्यक्ति अपना क्रेडिट कार्ड बना सकता है। क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए व्यक्ति की सैलरी ₹15000 से अधिक होनी चाहिए चाहे वो गवर्नमेंट जॉब लगती हो चाहे प्राइवेट जॉब वाला।

अगर 15000 से ऊपर आपकी इनकम है तो आप क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड कितने दिन में आता है?

क्रेडिट कार्ड अप्लाई करने के बाद लगभग 7 से 10 दिन के अंतर्गत क्रेडिट कार्ड आपके घर के एड्रेस पर या ऑफिस के एड्रेस पर पहुंच जाता है। कभी-कभी इसे पहुंचने में 15 दिन भी लग जाते हैं।



FAQ


क्रेडिट कार्ड क्या है?

क्रेडिट कार्ड एक प्लास्टिक आयताकार कार्ड होता है जिसके द्वारा व्यक्ति ऑनलाइन और ऑफलाइन से वस्तुओं को खरीदने के बाद भुगतान करता है। क्रेडिट कार्ड एक प्रकार का उधारी कार्ड होता है।


क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं?

क्रेडिट कार्ड 6 प्रकार के होते हैं।


क्रेडिट कार्ड कितने दिन में आता है?

क्रेडिट कार्ड 7 दिन के अंतर्गत आ जाता है।


निष्कर्ष

आप आपको क्रेडिट कार्ड क्या है क्रेडिट कार्ड के बारे में अन्य जानकारियां भी प्राप्त हो गई होंगी। आज के समय में दैनिक जीवन में क्रेडिट कार्ड का प्रयोग हर कोई कर रहा है और क्रेडिट कार्ड एक प्रकार का पॉपुलर शब्द है।