-->

Top 50 ग्रामीण महिलाओं के लिए रोजगार के तरीके 2022 में

 

ग्रामीण महिलाओं के लिए रोजगार के तरीके इनकम 5000-15000 हजार महीने


भारत की अधिकांश जनता गांव में ही निवास करती है और आज के समय में ग्रामीण महिलाएं रोजगार में भी आगे बढ़ रही है। भारत में अधिकतर ग्रामीण महिलाएं रोजगार करके अपनी पारिवारिक स्थिति को अच्छा करना चाहती हैं क्योंकि भारत के अधिकांश गांव गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करते हैं। सरकार भी ग्रामीण महिलाओं को रोजगार देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। भारत सरकार मनरेगा के तहत ग्रामीण महिलाओं को भी रोजगार दे रही हैं।


बहुत ही महिलाएं यह जानना चाहती है कि वह गांव में कौन-कौन से रोजगार कर सकती है। दोस्तों आज की इस आर्टिकल में हम ग्रामीण महिलाओं के लिए रोजगार के बारे में बहुत सारे तरीके बताने वाले हैं। ग्रामीण महिलाएं इन रोजगार तरीकों को अपनाकर महीने का बहुत ही आसानी से कमा सकती हैं।

ग्रामीण इलाके में महिलाएं ज्यादा पढ़ी लिखी नहीं होती है इसलिए महिलाएं ऐसे रोजगार की तलाश करती हैं जिससे ज्यादा शिक्षा का महत्व ना हो लेकिन आज के समय ग्रामीण महिलाएं शिक्षा भी ग्रहण कर रही है।

बहुत सी महिलाएं ग्रामीण महिलाएं पार्ट टाइम रोजगार पाना चाहती हैं।



प्राचीन भारत में भी महिलाएं कुटीर और लघु उद्योग की रोजगार में जुड़ी हुई थी और आज के समय में भी महिलाएं इन उद्योग से जुड़ना चाहती हैं लघु एवं कुटीर उद्योग के अलावा भी ग्रामीण महिलाओं के लिए बहुत सारे रोजगार से तरीके हैं।



ग्रामीण महिलाओं के लिए रोजगार
ग्रामीण महिलाओं के लिए रोजगार



1 सिलाई कढ़ाई का रोजगार

ग्रामीण महिलाएं सिलाई कढ़ाई के काम में पूर्णता निपुण होती है और श्रम मंत्रालय भी महिलाओं को सिलाई कढ़ाई के लिए काफी सुविधाएं प्रदान कर रहा है।

भारतीय श्रम मंत्रालय ग्रामीण महिलाओं को रोजगार देने के लिए सिलाई कढ़ाई का कोर्स और सिलाई मशीन दे रहा है इसके साथ-साथ रोजगार को शुरू करने के लिए श्रम मंत्रालय ग्रामीण महिलाओं को ₹5000 भी दे रहा है। ग्रामीण महिलाएं भी सिलाई कढ़ाई का रोजगार अब बहुत ही आसानी से शुरू कर सकती हैं।

आज के समय में सिलाई कढ़ाई का बिजनेस चलाना बहुत ही आसान है आप ऑनलाइन रूप से भी सिलाई मशीन और धागे मंगा सकते हैं या अपने स्थानीय मार्केट से सिलाई कढ़ाई का सामान खरीद कर इस रोजगार की शुरुआत बहुत ही कम पैसों में कर सकते हैं। अगर आपके पास भारतीय श्रम कार्ड का श्रमिक कार्ड है तो आप इस बिजनेस की शुरुआत फ्री में भी कर सकते हैं।


2 अचार पापड़ के सेक्टर में रोजगार

ग्रामीण महिलाओं के लिए अचार पापड़ का रोजगार में सबसे अच्छा है। इस रोजगार की शुरुआत गांव की हर महिला बहुत ही कम पैसे इन्वेस्ट करके कर सकती हैं।

अगर आप ही ग्रामीण महिला है और अपने साथ अन्य ग्रामीण महिलाओं को भी रोजगार देना चाहती हैं तो आप खुद का अचार पापड़ का बिजनेस शुरू कर सकती हैं और इसके अंतर्गत गांव की अन्य महिलाओं को भी रोजगार दे सकते हैं।

ग्रामीण महिलाएं अपने अचार पापड़ के बिजनेस को बहुत ही आसानी से ऑनलाइन रुप से भी जुड़ सकती है। गांव की महिलाएं अचार पापड़ को बनाकर ऑनलाइन रूप से अमेजॉन और फ्लिपकार्ट जैसी बड़ी कंपनियों में सेल कर सकती हैं इसके लिए फ्लिपकार्ट और अमेजॉन वेबसाइट पर कोई भी ग्रामीण महिला अपना सेलर अकाउंट बना सकती है।


3 दूध बेचने का रोजगार

ग्रामीण महिलाओं के लिए सबसे बेस्ट रोजगार दूध बेचने का रोजगार है जो कि इस रोजगार को पढ़े लिखे और अनपढ़ महिलाएं दोनों कर सकती हैं।

भारत सरकार भी इस रोजगार के लिए महिलाओं की काफी मदद कर रही है। अगर आप दूध बेचने का रोजगार करना चाहते हैं तो आप सरकारी लोन लेकर भैंस खरीद दूध बेचने का रोजगार कर सकते हैं। भारत में अधिकांश लोग इस रोजगार को करते हैं। भारत का उत्तर प्रदेश राज्य दूध उत्पादन में सबसे आगे हैं।

दूध बेचने का रोजगार इसलिए भी अच्छा है क्योंकि इस रोजगार में महिलाओं को शिक्षा की आवश्यकता नहीं पड़ती है। महिलाएं गाय और भैंस पाल कर दूध को स्थानीय डायरी में सेल कर सकती हैं।


4  ग्रामीण महिलाओं के लिए बेकरी में रोजगार

जैसा कि हम सभी को पता है कि बेकरी का बिजनेस अधिकतर शहरों में चलता है लेकिन बीसवीं सदी में बहुत ज्यादा परिवर्तन देखने के लिए मिले हैं। बेकरी का रोजगार अब ग्रामीण महिलाएं भी कर सकती हैं इस रोजगार की शुरुआत के लिए सरकार भी महिलाओं को सपोर्ट कर रही है। अगर गांव की किसी भी महिलाओं को बेकरी के उत्पादन करना आता है तो वह इस बिजनेस की शुरुआत कर सकती है और अपने साथ गांव की अन्य महिलाओं को भी शामिल कर सकती हैं।

बेकरी के प्रोडक्ट को तैयार करके महिलाएं स्थानीय बाजार और शहरों में जाकर सेल कर सकती हैं। इसके अलावा बेकरी के बिजनेस को ग्रामीण महिलाएं भी ऑनलाइन रूप से फ्लिपकार्ट और अमेजॉन जैसी बड़ी ई-कॉमर्स साइट से जोड़ सकती हैं।



5 ग्रामीण होमस्टे में रोजगार

भारत सरकार अब ग्रामीण होमस्टे को ज्यादा बढ़ावा दे रही है और लोगों को ग्रामीण संस्कृति से मिलाने का प्रयास कर रही है। अब सरकार ग्रामीण होमस्टे के निर्माण में लोन भी दे रही है। ग्रामीण महिलाएं अपने गांव में होमस्टे खोल कर लोगों को रोजगार दे सकती हैं इसके अलावा अपने ग्रामीण सेक्टर में होमस्टे में जाकर नौकरियां भी कर सकती हैं। ग्रामीण होम स्टे के अंतर्गत सरकार यह चाहती है कि विदेशी लोग भारतीय ग्रामीण संस्कृति को समझें।


6  गांव में मोमबत्ती बनाने का बिजनेस

अगर गांव की किसी भी महिला को मोमबत्ती बनाने का काम आता है तो वह महिला अन्य महिलाओं को मोमबत्ती बनाना सिखा सकती है इसके अलावा महिला मोमबत्ती बनाने का बिजनेस भी शुरू कर सकती है और इस बिजनेस के अंतर्गत गांव की अन्य महिलाओं को भी  रोजगार दे सकती है।

शहरों में अधिकतर महिलाएं मोमबत्ती का बिजनेस करती है और अपने साथ अन्य महिलाओं को भी जो होती है। अगर कोई भी ग्रामीण महिला बिजनेस शुरू करना चाहती है तो वह महिला अपने स्थानीय बैंक से लोन ले सकती है।


7 मिट्टी के बर्तन बनाने का बिजनेस

ग्रामीण महिलाओं के लिए मिट्टी के बर्तन बनाने की डिश में भी बहुत ज्यादा रोजगार हैं। अगर कोई भी महिला अपने गांव में मिट्टी के बर्तन बनाने का बिजनेस शुरू करती है तो इसके साथ वह अन्य ग्रामीण महिलाओं को भी अपने बिजनेस में रोजगार दे सकती है।

भारत में भी मिट्टी के बर्तन में जैसे कुल्हड़ की डिमांड सबसे तेजी से बढ़ रही है। अधिकांश लोग प्लास्टिक को ऑफ वाइट करके कुल्हड़ का प्रयोग करना पसंद कर रही हैं।

मिट्टी के बर्तन के बिजनेस में ज्यादा पैसे इन्वेस्ट नहीं करने पड़ते हैं ग्रामीण इलाकों में मिट्टी बहुत ही आसानी से प्राप्त हो जाती है जिसके कारण मिट्टी में इन्वेस्ट करने का पैसा बच जाता है।


Business Ideas In Hindi

2022 Mai Gaanv Mai Business Ideas In Hindi

Work From Home Business Ideas 

एक लाख रुपए वाले बिजनेस आइडियास



8 मुर्गी पालन का बिजनेस

आज के समय में जो काम पुरुष कर सकते हैं वही काम स्त्रियां भी कर सकती हैं और भारतीय महिलाएं हर एक  क्षेत्र में आगे आ रही है।

अगर कोई ग्रामीण महिला रोजगार की तलाश में है तो वह खुद का मुर्गी फार्म खोल सकती है और मुर्गी फार्म के लिए भारतीय गवर्नमेंट भी काफी सपोर्ट करती है।

मुर्गी पालन का बिजनेस महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद है। महिलाएं इस बिजनेस की शुरुआत अपने घर से भी कर सकती हैं। जरूरी नहीं है कि शुरुआत में 20 से 40 मुर्गी पाली जाए। ग्रामीण महिलाएं अपने घर में 4 मुर्गी पालन कर भी अपना एक नया रोजगार स्थापित कर सकती हैं। अधिकतर लोग मुर्गी पालन के बिजनेस को ज्यादा प्रॉफिट वाला मानते हैं क्योंकि मुर्गे की डिमांड मार्केट में हमेशा रहती है और इसके अलावा मुर्गी के अंडे भी सेल कर सकते हैं।


9 ब्यूटी पार्लर की दुकान

ग्रामीण महिलाएं भी अपने गांव में ब्यूटी पार्लर की दुकान खोल सकती हैं। आज के समय में ब्यूटी पार्लर का कोर्स सीखना बहुत ही आसान है। महिलाएं यूट्यूब के माध्यम से ब्यूटी पार्लर का कोर्स सीख सकती हैं और अपने गांव में एक छोटा सा ब्यूटी पार्लर खोल कर अपने नए बिजनेस की शुरुआत कर सकती हैं।

ब्यूटी पार्लर की बिजनेस की शुरुआत महिलाएं अपने घर से भी कर सकते हैं और इसका प्रचार-प्रसार अपनी सोशल मीडिया अकाउंट जैसे व्हाट्सएप और फेसबुक के माध्यम से कर सकती हैं। ग्रामीण महिलाएं भी मेकअप का शौक रखती हैं और यह बिजनेस गांव में भी अच्छा खासा चल रहा है। ब्यूटी पार्लर के बिजनेस से महिलाएं गांव में रहकर ही ₹10000 बहुत ही आसानी से कमा सकती हैं।



10 मसाले की बिजनेस की शुरुआत करके

भारत के ग्रामीण सेक्टर में भी बहुत ज्यादा मसालों का उत्पादन होता है जैसे दक्षिण भारत के कुछ राज्य उत्तर और पूर्वी भारत के कुछ राज्य। यहां के ग्रामीण इलाकों में हल्दी, मिर्ची, तेजपत्ता, धनिया, आदि मसालों का उत्पादन अच्छा खासा होता है अगर ग्रामीण महिलाएं गांव में रहकर रोजगार पाना चाहती है तो वह अपने गांव से मसालों के बिजनेस की शुरुआत कर सकती है।

ग्रामीण महिलाएं अपने इन मसालों को स्थानीय बाजार में सेल कर सकती है इसके अलावा अगर इनका बिजनेस अच्छा चलता है तो ग्रामीण महिलाएं अपने मसाले के बिजनेस को ऑनलाइन रुप से अमेजॉन और फ्लिपकार्ट जैसी बड़ी ई-कॉमर्स वेबसाइट से जोड़ सकती हैं इसके बाद अपने मसालों को ऑनलाइन रूप से पूरे भारत में सेल करने का बिजनेस कर सकती हैं।


11 चाइनीस फूड कॉर्नर का बिजनेस

आज के समय में गांव में भी चाइनीस फूड कॉर्नर खूब चलते हैं। ग्रामीण महिलाएं भी चाइनीस फूड कॉर्नर खोलकर अपना रोजगार स्थापित कर सकती हैं।

चाइनीस फूड को बनाना बहुत ही आसान काम है और यूट्यूब पर बहुत सारी ऐसी वीडियो से हिना देखकर आप चाइनीस फूड आराम से बना सकते हैं।

आप अपने घर के आस-पास या गांव की मार्केट में छोटा सा चाइनीस फूड कॉर्नर खोलकर इस बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं।


12 अगरबत्ती बनाने का बिजनेस

अगरबत्ती का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस है जिसकी शुरुआत ग्रामीण और शहर दोनों जगह से हो सकती है अगर ग्रामीण महिलाएं रोजगार की तलाश में है तो वे अगरबत्ती बनाने का बिजनेस शुरू कर सकती हैं।

अगरबत्ती की डिमांड मार्केट में हमेशा बनी रहती हैं अगर कोई भी पढ़ी-लिखी महिला इस बिजनेस की शुरुआत करती है और इसके अंतर्गत 10 महिलाओं को बहुत ही आसानी से रोजगार दे सकती हैं। ग्रामीण महिलाएं अधिपति के बिजनेस के लिए स्वयं सहायता समूह से भी लोन ले सकते हैं। स्वयं सहायता समूह के अंतर्गत ग्रामीण महिलाओं को लोन सुविधा दी जाती है।


13 जनरल स्टोर का बिजनेस

जनरल स्टोर का बिजनेस जरूरी नहीं है कि इस बिजनेस को आदमी करें आज के समय में शहरों में कई महिलाएं जनरल स्टोर का बिजनेस चला रही है।

ग्रामीण महिलाएं भी अपने गांव में स्थानीय मार्केट में जनरल स्टोर खोल सकती हैं। इसके लिए महिला स्वयं सहायता समूह के अंतर्गत 10,000 से लेकर ₹20000 तक का लोन ले सकती है।

जनरल स्टोर का बिजनेस शुरू करके महिलाएं महीने का ₹10000 आसानी से कमा सकते हैं।


14 नर्सरी का बिजनेस

जो महिलाएं गांव में रहकर बिजनेस की शुरुआत करना चाहती हैं तो वह अपने आसपास नर्सरी खोल सकती हैं और यहां पर तरह तरह के फूलों का उत्पादन करके मार्केट में सप्लाई कर सकती हैं इसके अलावा नर्सरी के बिजनेस में महिलाएं अन्य ग्रामीण महिलाओं को रोजगार भी प्रदान कर सकती है। भारत में फूलों की डिमांड हमेशा बनी रहती है इसलिए नर्सरी का बिजनेस भी काफी अच्छा खासा चलता रहता है।

नर्सरी के बिजनेस के लिए अगर आपके पास जमीन है तो बहुत अच्छी बात है अगर आपके पास जमीन नहीं है तो आप अपने स्थानीय लोगों से जमीन को लीज में ले सकते हैं क्योंकि अधिकतर लोग अपनी जमीन पर खेती बारी नहीं करते हैं तो वह लोगों को नर्सरी के लिए जमीन    किराए में प्रदान कर देते हैं।


15 सब्जियों की दुकान का बिजनेस

ग्रामीण महिलाएं अपने गांव में सब्जी की दुकान खोल कर भी अपना रोजगार पा सकते हैं। ग्रामीण महिलाएं अपने स्थानीय शहरी मंडी से मौसम के अनुसार सब्जियों को खरीद कर अपनी दुकान में ग्रामीण लोगों को सेल कर सकती हैं। इस बिजनेस के लिए वे अपने पति या अपने भाई की या अन्य व्यक्ति हेल्प ले सकती हैं।


16 कपड़ों की दुकान का बिजनेस

ग्रामीण महिलाएं अपने गांव में छोटी सी कपड़ों की दुकान का बिजनेस भी शुरू कर सकती हैं। क्योंकि ग्रामीण इलाकों में कपड़ों की दुकान बहुत कम देखने के लिए मिलती हैं। अगर आप के ग्रामीण इलाकों में कपड़ों की दुकान कम है तो आप इस बिजनेस की शुरुआत अपने गांव में कर सकते हैं अपने स्थानीय शहर से कपड़े खरीद कर अपनी दुकान पर रख सकते हैं।

कपड़ों की दुकान का बिजनेस भी आज के समय में ग्रामीण महिलाओं को रोजगार दे रहा है।


ग्रामीण महिलाओं के लिए रोजगार के ऑनलाइन तरीके

ऑफलाइन तरीकों के अलावा आज के समय में ग्रामीण महिलाओं के लिए बहुत सारे ऑनलाइन तरीके भी हैं।

ऑनलाइन रोजगार के लिए महिला को थोड़ी बहुत इंटरनेट और मोबाइल की जानकारी होना जरूरी है। अगर आप एक महिला है और आप रोजगार की तलाश में है और आप ऑफलाइन रोजगार नहीं मिल पा रहा है तो आप ऑनलाइन रोजगार की शुरुआत अपने भाई पति या बच्चों के सपोर्ट से कर सकते हैं। आज बहुत सी ग्रामीण महिलाओं को उनके परिवार वाले सपोर्ट कर रहे हैं और वह ऑनलाइन रूप से रोजगार भी प्राप्त कर रही हैं।


यूट्यूब पर ब्लॉग बनाकर ऑनलाइन रोजगार प्राप्त करें

आज के समय में यूट्यूब पर भी अधिकांश भारतीय महिलाएं अपनी लाइफ स्टाइल का ब्लॉक बनाकर महीने का लाखों रुपए कमा रही हैं इसके पीछे उनके परिवार वाले भी बहुत ज्यादा सपोर्ट कर रहे है। यूट्यूब पर बहुत सारी ग्रामीण महिलाएं काम कर रही हैं। यूट्यूब पर रोजगार प्राप्त करने के लिए ग्रामीण महिलाएं फोन चलाना और इंटरनेट के बारे में जानकारी एकत्रित कर सकती है उसके बाद फोन के कैमरे से भी ब्लॉग बनाकर यूट्यूब पर अपलोड कर सकती हैं। यूट्यूब पर महिलाएं फूड ब्लॉग, हेल्थ, डेली लाइफ स्टाइल, दूध डायरी, नर्सरी आदि के बारे में ब्लॉग बना सकती हैं। अगर एक बार गूगल ऐडसेंस से आपका यूट्यूब चैनल मोनेटाइज हो जाएगा तो आप घर बैठे यूट्यूब से पैसा कमा सकती हैं।

दोस्तों अगर आप ज्यादा पढ़े लिखे हैं और आपको ऑफलाइन रूप से रोजगार नहीं मिल रहा है तो आप किसी सी एजुकेशन चैनल पर ऑनलाइन रूप से अपने घर पर बैठकर पढ़ा सकते हैं। बहुत सारी ग्रामीण महिलाएं आज यूट्यूब पर ऑनलाइन एजुकेशन दे रही हैं।



ग्रामीण महिलाओं के लिए गूगल में रोजगार

ग्रामीण महिलाओं के लिए गूगल में बहुत सारे रोजगार है जैसे कंटेंट राइटिंग, वेबसाइट डेवलपर, न्यूज़ राइटर, आदि। अगर कोई भी ग्रामीण महिला गूगल की मदद से रोजगार प्राप्त करना चाहती हैं तो वह ऑनलाइन रूप से अपना ब्लॉग क्रिएट कर सकती हैं।


ऑनलाइन ब्लॉगिंग में रोजगार

ग्रामीण महिलाओं के लिए ऑनलाइन रोजगार की भी कोई कमी नहीं है अगर कोई भी महिला 12 या ग्रेजुएशन पास है तो वह गांव में रहकर। ऑनलाइन ब्लॉगिंग करके अपना रोजगार स्थापित कर सकती हैं। आज के समय में कई ग्रामीण इलाकों से ब्लॉगिंग करके महीने का लाखों रुपए कमा रहे हैं।

अगर आपको ब्लॉगिंग के बारे में जानकारी नहीं है तो आप यूट्यूब पर जाकर ब्लॉगिंग करके सर्च कर सकते हैं यूट्यूब पर ब्लॉगिंग का पूरा कोर्स हिंदी पर अवेलेबल है आप यूट्यूब से ब्लॉगिंग सीख कर गांव में रहकर महीने का अच्छा खासा रुपए कमा सकते हैं।

ब्लॉगिंग में किसी भी प्रकार का पैसा इन्वेस्ट नहीं करना पड़ता है आप ब्लॉगर पर फ्री में अपना ब्लॉग बना सकते हैं गूगल एडसेंड की मदद से अच्छा पैसा कमा सकते हैं।


मीशो कंपनी में ग्रामीण महिलाओं के लिए रोजगार

Mesho भारत की एक ऐसी सेलर कंपनी है जो सभी महिलाओं को घर बैठे रोजगार दे रही है। अगर आप ग्रामीण इलाके से बिलॉन्ग करते हैं तो आप mesho से अपना बिजनेस शुरू कर सकते है। आप mesho के प्रोडक्ट को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करके गांव में रहकर ही पैसा कमा सकते हैं।


ऑनलाइन ट्यूशन पढ़ाकर

ग्रामीण महिलाएं भी अब ट्यूशन बहुत आसानी से ऑनलाइन पढ़ा सकती हैं गूगल प्ले स्टोर में इतने सारे एंड्राइड एप्लीकेशन लॉन्च सोचते हैं कि जिनसे घर बैठे ऑनलाइन ट्यूशन पढ़ाया जा सकता है। अगर आपको बहुत ज्यादा सब्जेक्ट नॉलेज है तो आप घर बैठे Onlineट्यूशन पढ़ा सकते हैं और महीने के 5000 रुपए कमा सकते है।


अमेजॉन कंपनी की एफिलिएट मार्केटिंग

ग्रामीण महिलाओं के लिए ऑनलाइन रोजगार में अमेजॉन कंपनी की एफिलिएट मार्केटिंग भी सबसे बेस्ट है मार्केटिंग के लिए महिलाओं को थोड़ा बहुत इंटरनेट की नॉलेज होना बहुत जरूरी है। अगर आप पढ़े लिखे हैं तो आप यूट्यूब पर अमेजॉन एफिलिएट मार्केटिंग का कोर्स देख सकते हैं।


कंटेंट राइटर और न्यूज़ राइटर का रोजगार

अगर आप लिखने के शौकीन हैं और आप ग्रामीण इलाके से बिलॉन्ग करते हैं तो आप किसी भी वेबसाइट के लिए न्यूज़ राइटर की जॉब कर सकते हैं या फिर आप किसी वेबसाइट के लिए कंटेंट राइटिंग की जॉब कर सकते हैं गूगल पर आप किसी वेबसाइट के अंतर्गत जाकर अपना सैंपल ईमेल कर सकते हैं इसके बाद अगर आप का सैंपल अच्छा लगता है तो वह आपको जॉब पर रख लेंगे।


फ्रीलांसर वेबसाइट पर रोजगार

अगर आपको इंटरनेट की नॉलेज अच्छी है और आपके पास मोबाइल और लैपटॉप है तो आप गांव में बैठकर फ्रीलांसर वेबसाइट से कई सारी प्रोजेक्ट लेकर अपना ऑनलाइन रोजगार स्थापित कर सकते हैं।

फ्रीलांसर वेबसाइट से काम लेने के लिए आपको फ्रीलांसर वेबसाइट पर अपना अकाउंट बनाना होगा और अपने काम का सैंपल ऐड करना होगा इसके बाद कोई भी प्रोजेक्ट आता है तो आप उस पर बाइड लगा सकते हैं



ग्रामीण महिलाएं रोजगार के लिए मेरी राय

दोस्तों हमने आपको बहुत सारे ग्रामीण महिलाओं क के रोजगार के लिए तरीके बताएं हैं आप इन सभी तरीकों में से किसी एक या दो का प्रयोग कर सकते हैं अगर आप ऑफलाइन से कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आप अपने स्वयं सहायता समूह से लोन ले सकते हैं।

इसके अलावा अगर आप ऑनलाइन रूप से रोजगार प्राप्त करना चाहते हैं तो आप यूट्यूब या ब्लॉगिंग शुरू कर सकते हैं। ब्लॉगिंग का पूरा कोर्स इंटरनेट पर फ्री में उपलब्ध है।